होम पेज

लोकप्रिय

बाँध बनाने के फायदे और नुक्सान का आंकलन
क्या भारत में नदी जोड़ो परियोजना सफल होगी ?
केदारनाथ आपदा- प्राकृतिक या मानव निर्मित ?
फरक्का बैराज विवाद
वाराणसी में जलमार्ग निर्माण से नुक्सान
भूजल रिचार्ज से टिहरी बांध को हटाना संभव
गाय, गंगा और गायत्री- सनातन संस्कृति के आधार
1917 समझौते का उल्लंघन क्यों ?
गंगा की जीवंतता का सवाल
विलासता की फसलों के लिए गंगा की बर्बादी
गंगा नदी में गाद का जमाव
गंगा एक जीवित इकाई - उत्तराखंड उच्च न्यायालय

⚪⚪ ⚪ नवीनतम

वर्तमान में जल विद्युत अर्थात हाइड्रोपावर से उत्पन्न बिजली का मूल्य 7 से 9 रुपया प्रति यूनिट पड़ रहा है जबकि बाजार में उप...

बदरीनाथ धाम से निकलने वाली गंगा की सहायक नदी अलकनंदा पर बांधों से संकट गंगा नदी में मछलियों के ऊपर की तरफ पलायन, गाद का...

 पोस्ट: डॉ. प्रकाश नौटियाल बांधों के निर्माण से हम अपनी जैव विविधता नष्ट कर रहे हैं जैव विविधता का अर्थ वायु, जल और भ...

पोस्ट: डॉ रवि चोपड़ा  2018 में सरकार नें दावा किया था कि गंगा का पानी पहले की अपेक्षा अब साफ हो गया है. मई 2018 में जल स...

जलविद्युत परियोजनाओं के विरोध में स्वामी सानंद ने अपने प्राण त्याग दिए थे आईआईटी कानपुर के पूर्व प्रोफेसर जी डी अग्...

गंगा महासभा के श्री डी पी तिवारी जी नें प्रयागराज में कुंभ के दौरान नदियों के पानी की गुणवत्ता पर लगातार नजर बनाये रखी. ...

More Articles

और पुराने लेख पढ़ें....: हिंदी

विशेष

टिहरी झील में मीथेन की मात्रा जांचते नीरी के वैज्ञानिक मृत पशुओं, पेड़ों, पौधों और अन्य कार्बनिक पदार्थ नदी के प्रवाह क...

गौ, गंगा और गायत्री सनातन संस्कृती का आधार है. हालांकि गाय पर सरकार कारगर साबित हुयी है जो होना भी चाहिए. सरकार गौवंश वध...

कुछ फसलों की पैदावार के लिए अत्यधिक पानी की आवश्यकता होती है (फोटो साभार: वेमेंकोव, विकिमीडिया) जिन फसलों को अत्यधिक पा...

सिंचाई के लिए पानी का अत्यधिक उपयोग पानी का नुक्सान है (फोटो साभार: जेफ़ वानुगा, विकिमीडिया) सिंचाई के लिए गंगाजल का अ...

फरक्का बैराज विवाद

गंगा नदी को जल आपूर्ति के लिए हूगली नदी की तरफ मोड़ा गया है (फोटो साभार: रिसर्चगेट) फरक्का बैराज, भारत और बांग्लादेश के ...

उत्तराखंड के चारों धाम पवित्र नदियों पर स्थित हैं. बद्रीनाथ धाम अलकनंदा नदी पर, केदारनाथ धाम मन्दाकिनी नदी पर, गंगोत्री ...

More Articles

पढ़ें सारे लेख...: हिंदी

ट्विट्टर पर जुडें

फेसबुक पर जुडें

गूगल प्लस से जुडें